Saturday, September 19, 2020
Home > Politics News > सक्रियता व संवाद से बनाई कार्यकर्ताओं में पकड़

सक्रियता व संवाद से बनाई कार्यकर्ताओं में पकड़

shabnam godara

संगरिया विधानसभा क्षेत्र : कांग्रेस में शबनम गोदारा सबसे मजबूत

राजस्थान | राज्य में करीब 10 माह बाद होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों में सक्रियता बढ़ गई है। मुख्य राजनीतिक दलों कांग्रेस व भाजपा ने अंदरखाने चुनावी तैयारीयां भी शुरू कर दीं हैं ।संगरिया विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस टिकट के दावेदारों ने कांग्रेसियों का मन टटोलने के साथ ही जयपुर- दिल्ली में अपने संपर्क पुख्ता करने शुरू कर दिये हैं। पिछले एक वर्ष से दावेदारों ने कार्यकर्ताओं को साथ जोड़ने के जतन शुरू भी कर रखे हैं। यहां से पिछला विधानसभा चुनाव लड़ चुकीं पूर्व उप जिला प्रमुख शबनम गोदारा विधानसभा चुनाव के बाद से ही लगातार क्षेत्र में सक्रिय हैं वहीं कांग्रेस जिलाध्यक्ष की कुर्सी मिलने के बाद पूर्व मंत्री केसी बिश्नोई और पूर्व विधायक महेंद्र सिंह बराड़ भी टिकट की दावेदारी जता रहे हैं। कुछ अन्य लोगों के नाम भी सामने आ रहे हैं परन्तु वे खुद तो सक्रिय नहीं हैं लेकिन इनके कुछ समर्थक जरूर उनकी टिकट की दावेदारी की प्लानिंग कर रहे हैं। इन सब में पूर्व उप जिला प्रमुख शबनम गोदारा को राजनीतिक विश्लेषक फिलहाल कांग्रेस टिकट के लिए सबसे मजबूत दावेदार मान रहे हैं। इसकी वजह गत चुनाव में मामूली अंतर से हारने के बाद उनका क्षेत्र में लगातार सक्रिय रहना है और कार्यकर्ताओं के साथ उन्होंने व्यक्तिगत संवाद स्थापित कर इन चार सालों मे जनहित के मुद्दों को लगातार उठाया है। उनकी भागीदारी से आम आदमी अब जीत की बात भी कर रहे हैं। पिछले चुनाव में शबनम गोदारा ने अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन संगरिया तहसील क्षेत्र में वह पिछ्ड़ी थी परन्तु इस बार शुरू से उन्होंने सगरिया के गांव -गांव जाकर व कार्यकर्ताओं से मिलकर अौर उन्हें साथ लेकर जो मेहनत की है उसका फायदा अब नजर आने लगा है। अगर टिब्बी तहसील की बात करें तो वहां पर उनके परिवार कि हमेशा से ही गहरी राजनीति पैठ के कारण शबनम गोदारा हमेशा से ही मजबूत रही हैं। कांग्रेस के सक्रिय कार्यकर्ता भी मानते हैं कि आगामी विधानसभा चुनाव में टिकट मिलने से संगरिया विधान सभा में शबनम गोदारा की जीत निश्चित है

सरकार को घेरा हर क्षेत्र में

जन समस्याओं के समाधान की मांग को लेकर शबनम गोदारा ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं के सहयोग से राज्य में भाजपा सरकार की 4 सालों में जमकर घेराबंदी की है। पंजाब में राजस्थान की नहरों में आ रहे प्रदूषण की रोकथाम के लिए उन्होंने अभियान चला रखा है ।जनसंवाद चौपाला कार्यक्रम के तहत उन्होंने किसानों की कर्जमाफी व फसलों का उचित मूल्य देने की मांग उठा रखी है। इसके अलावा भाखड़ा व इंदिरा गांधी नहर के किसानों के पानी का मुद्दा हो या क्षेत्र में गरीब परिवारों का खाद्य सुरक्षा योजना के लिए लडाई हो, नशाखोरी की रोकथाम व नशा प्रवृत्ति के खिलाफ तथा तथा ओलावृष्टि से प्रभावित किसानों को मुआवजे की मांग सहित कई मसलों पर उनके नेतृत्व में कांग्रेस ने बड़े प्रदर्शन किए हैं।शबनम गोदारा पर्यावरण संरक्षण, बालिका उत्थान व महिला सशक्तिकरण के लिए भी क्षेत्र में लगातार सक्रिय हैं।

सद्भावना सम्मेलन से दिखाई ताकत

पूर्व सांसद बीरबलराम की स्मृति में गांव मिर्जावाली मेर में कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट व विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर जी डुडी की मौजूदगी में हुए सद्भावना सम्मेलन में भीड़ जुटाकर शबनम गोदारा ने क्षेत्र में अपनी राजनीतिक पकड़ को प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट को दिखा दिया था । जानकार मानते हैं कि भीड़ व सफलता के लिहाज से कांग्रेस का जिले में आज तक ऐसा कोई कार्यक्रम हीं हुआ ।

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *