Saturday, September 19, 2020
Home > Top News > वित वर्ष में पहली बार 1लाख करोड़ रूपये से निचेः-

वित वर्ष में पहली बार 1लाख करोड़ रूपये से निचेः-

budget-2019

नई दिल्लीः– वस्तु एंव सेवा कर (जी एस टी) सग्रंह जून महिने में साल भर पहले की सम्मान अवधि के मुकाबले 4.52 प्रतिशत बढ.कर 99.939 करोड़ रहा लेकिन मौजूदा वित वर्ष में मासिक राजस्व के लिहाज से पहली बार एक लाख करोड़ रूप्ये से कम रहा ।
यह सग्रंह मई की तुलना में भी कम रहा हैं जब सकल राजस्व 100289 करोड़ रूपये तक पहुंच गया ।
जी एस टी सग्रंह वित वर्ष 2020 के प्रथम महिने अप्रैल में पहली बार सर्वाधिक 113865 करोड़ रूपये हुआ था ।
डिलायट इंडिया के साझेंदार एम.एस मणि ने कहा ’सग्रंह में और कटौति की गुंजाइश फिलहाल न के बराबर हैं ।
उम्मिद से कम सग्रंह लीफेज को पहचानने और उसे बंद करने के लिए जी.एस.टी.एन के पास उपलब्ध आकंड़े के अधिक विश्लेषण की मांग करेगा ।
जी एस टी में थोड़ा -बहुत उपर -निचे का रूझान सामान्य बात हैं लेकिन कम कर सग्रंह से सरकारी वित पर निचिश्त तौर से दवाब बढ़ेगा ।
वित मंत्रालय के एक बयान में कहा गया हैं -तुन 2019 में कुल जी एस टी सग्रंह 99939 करोड़ रूपये हैं जिसमें सी जी एस टी 18366 करोड़ रूपये एस आई जी एस टी 47772 करोड़ और सेस 8457 करोड़ रूपये हैं ।

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *